अब सरकार देगी 2 लाख तक की मदद, जल्दी कराएँ यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन (UP Asangathit Kamgar Registration)

भारत सरकार और राज्य सरकारों द्वारा जनता के हित को ध्यान में रखते हुए अनेक तरह की योजनाएं चलाई जा रही है। और ऐसे में आज के समय मे अनेक लोग है जो अनेक तरह के काम कर रहे है, समय के साथ ऐसे अनेक कामगार है जो सामुहिक कार्य न करके अलग अलग कार्य में लगे हुए हैं.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

ऐसे में सरकार के द्वारा असंगठित रूप से काम करने वाले कामगारों के कल्याण के लिए अनेक तरह का कार्य किया जाता है, और सरकार के द्वारा असंगठित मजदूर के लिए अनेक योजनाओं का क्रियान्वयन किया गया है. इसी कड़ी में उत्तरप्रदेश राज्य सरकार ने असंगठित मजदूरों को सरकारी लाभ प्रदान करने के लिए असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कामगारों का रजिस्ट्रेशन (UP Asangathit Kamgar Registration) स्टार्ट कर दिया है.

यदि आप उत्तरप्रदेश राज्य में निवास करते है तथा आप भी इस योजना के माध्यम से अपना नाम असंगठित क्षेत्र के कामगारों के रूप में रजिस्ट्रेशन कराना चाहते है तब आप इस पोस्ट को अंत तक ध्यान से पढ़े, इस पोस्ट में इससे सम्बंधित सभी जानकारी मौजूद है।

यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन (UP Asangathit Kamgar Registration) क्या है

उत्तरप्रदेश राज्य सरकार के द्वारा यूपी में जितने भी असंगठित रूप से काम करने वाले कामगार है, उनके हित को ध्यान में रखते हुए यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन का शुभारंभ कर दिया गया है.

इसका शुभारंभ 09 जून 2021 से किया गया तथा तथा इसका उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के संचालन श्रम एवं विकास कल्याण विभाग द्वारा किया जा रहा है। वर्तमान में जो भी कामगार असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे है वह समाजिक सुरक्षा बोर्ड (Social Security Board) में रजिस्ट्रेशन करा सकते है, और भविष्य के योजना का लाभ उठा सकते हैं.

वर्तमान में इस पोर्टल में 45 तरह के काम करने वाले कामगार रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है और उनका आया 1,80,000 रुपये सलाना से कम होना चाहिए तथा वर्तमान में रजिस्ट्रेशन के लिए 60 रुपये लग रहा है।

यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन

योजना का नामयूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन
योजना की शुरुआत2019
योजना का संचालनश्रम विभाग उत्तर प्रदेश
लाभार्थीयूपी राज्य के असंगठित कामगार मजदूर
योजना का रूपउत्तर प्रदेश राज्य सरकार के अधीन
उद्देश्यअसंगठित कामगार मजदूरों को रोजगार और आत्मनिर्भर बनाना
आधिकारिक वेबसाइटhttps://upssb.in/
UP Asangathit Kamgar Registration

यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन की विशेषता क्या है

असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कामगारों के हित को ध्यान में रखते हुए उत्तरप्रदेश राज्य सरकार ने असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन स्टार्ट किया है, जिसकी मुख्य विशेषता निम्न है-

• असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कामगारों के लिए इस रजिस्ट्रेशन को स्टार्ट किया गया है।

• इस रजिस्ट्रेशन का प्रारंभ उत्तरप्रदेश राज्य सरकार द्वारा 9 जून 2021 को पोर्टल लांच करके किया गया है।

• जो भी लाभार्थी है वह उत्तरप्रदेश राज्य में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाला होना चाहिए।

• इसका मुख्य उद्देश्य असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कामगारों का लिस्ट ताकि जरूरत पड़ने पर उन्हें सही समय मे मदद दिला सके और उन्हें काम प्रदान किया जा सके।

• आवेदन करने के लिए 60 रुपये रजिस्ट्रेशन फीस रखा गया है।

• आप आवेदन ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों माध्यम से कर सकते है, इसके साथ ही आप स्वंय या फिर CSC सेंटर जाकर भी आवेदन करा सकते है।

यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन का उद्देश्य

वर्तमान समय में असंगठित क्षेत्र के कामगार बहुत अधिक मेहनत करते है पर उन्हें जब किसी चीज की जरूरत होती है जैसे आर्थिक, हेल्थ एवं अन्य से सम्बंधित तब उन्हें सुविधा नही मिल पाती है।

ऐसे में अब उन्हें किसी तरह की असुविधा नही होगा, इस योजना के क्रियान्वयन का मुख्य उद्देश्य उत्तरप्रदेश राज्य के असंगठित क्षेत्र के कामगारों का मदद करना है ताकि उन्हें स्वास्थ्य बीमा, काम उपलब्ध हो सके तथा किसी तरह की समस्या हो तब आर्थिक मदद राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जा सके।

वर्तमान में यूपी सरकार द्वारा इस पोर्टल का संचालन यूपी के असंगठित क्षेत्र के कामगारों को समाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए किया जा रहा है। इसके साथ ही आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को सहायता प्रदान किया जा रहा है, और यूपी के मजदूर लोगों को यूपी की श्रमिक से जुड़ी सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान किया जा रहा है।

यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन के फायदे

वर्तमान समय में यदि कोई यूपी में निवासरत मजदूर इस पोर्टल का लाभ उठाना चाहते हैं तब इसके निम्न लाभ हैं –

• मुख्य रूप से इस योजना का लाभ उत्तरप्रदेश राज्य में निवास करने वाले असंगठित क्षेत्र के कामगारों को हो रहा है।

• जितने भी पंजीकृत असंगठित क्षेत्र के कामगार है उन्हें इस रजिस्ट्रेशन के माध्यम से दो योजना का लाभ होगा मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना तथा इसके साथ ही मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना का।

• मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के माध्यम से 2,00,000 रुपये दुर्घटना में मृत्यु या विकंलाग हो जाने पर।

• मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के माध्यम से किसी तरह का काम करते हुए दुर्घटना हो जाने पर 5 लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त में किया जाएगा।

यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन के लिए योग्यता (Eligibility)

आज के समय में यदि कोई यूपी के मजदूर भाई इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तब उनके पास निम्न योग्यता होना चाहिए –

• हितग्राही को उत्तरप्रदेश राज्य का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।

• हितग्राही को असंगठित क्षेत्र में काम करने वाला कामगार होना अनिवार्य है।

• हितग्राही का उम्र 18 वर्ष से अधिक होना चाहिए।

• कामगार को ईएससी (ESC) तथा पीएफ (PF) से आवर्तन होना चाहिए।

• योजना का लाभ 2.5 एकड़ से कम भूमि वाले असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कामगार ही उठा सकते है।

• आवेदक का वार्षिक आय 1,80,000 रुपये से कम होना चाहिए।

यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन के लिए दस्तावेज

यदि आप वर्तमान समय में इस पोर्टल में आवेदन करने के बारे में सोच रहे है तब आपके पास निम्न दस्तावेज होना चाहिए –

• आधार कार्ड

• निवास प्रमाण पत्र

• आय प्रमाण पत्र

• वोटर आईडी कार्ड

• पासपोर्ट साइज फोटो

• मजदूर प्रमाण पत्र

• मोबाइल नंबर आदि।

कौन कर सकता है यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन (UP Asangathit Kamgar Registration) में आवेदन  :

वर्तमान समय में निम्न श्रेणी में काम करने वाले कामगार इस पोर्टल में आवेदन कर सकते हैं –

• नाई

• कूड़ा बीनने वाले

• ठेला चलाने वाले

• कांच उत्पादन करने वाले

• चिकन मीट शॉप या फिर पोल्ट्री फार्म पर कार्य करने वाले

• फल सब्जी बेचने वाले

• फूल विक्रेता फुटपाथ व्यापारी

• कुली

• दरी कंबल जरी कार्य करने वाले कामगार

• चरवाहा

• दूध धोने का कार्य करने वाले

• मोची

• रिक्शा चालक

• घरेलू कामगार

• दर्जी

• जनरेटर उठाने वाले

• कढ़ाई बुनाई करने वाले

• चूड़ी बनाने वाले

• कपड़े धोने का कार्य करने वाले

• ऑटो चालक

• साइकिल व मोटरसाइकिल बनाने वाले मिस्त्री

• माली

• अगरबत्ती कुटीर उद्योग में काम करने वाले

• नाव चलाने वाले

• सूत रंगाई

• बुनकर

• ढोल एवं बाजा बजाने वाले

• टेंट हाउस एवं केटरिंग में कार्य करने वाले

• टांगा बैल गाड़ी चलाने वाले कामगार आदि।

यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन कैसे करे

वर्तमान समय में आप इस पोर्टल में ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों माध्यम से आवेदन कर सकते है, यदि आप ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तब निम्न स्टेप को फॉलो करना होगा–

• सर्वप्रथम आपको इसके लिए यूपी असंगठित कामगार के आधिकारिक वेबसाइट www.upssb.in में जाना होगा।

Up asangathit kamgar registration
अब सरकार देगी 2 लाख तक की मदद, जल्दी कराएँ यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन (up asangathit kamgar registration) 4

• आप जैसे ही होम पेज में जाते है तब आपको कामगार पंजीकरण करने का ऑप्शन दिखेगा उसमें क्लिक करना होगा।

• जैसे ही आप उसमे क्लिक करते है फिर नया श्रमिक पंजीकरण का ऑप्शन दिखाई देगा फिर आपका फॉर्म ओपन हो जाता है, जिसे आप ध्यान पूर्वक पढ़कर सभी जानकारी सही से भर दे।

• अब आप आवश्यक दस्तावेज का स्कैन करके अपलोड कर लेना होगा।

• इसके पश्चात आप 60 रुपये रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान ऑनलाइन ट्रांसक्शन के माध्यम से भुगतान कर लेना होगा, इसके बाद आप फॉर्म को जमा कर दे।

• इस तरह से आप फॉर्म भर सकते है. आपके फॉर्म में सभी जानकारी सही मिलता है, तब आपका नाम असंगठित क्षेत्र के कामगार लिस्ट में आ जाता है।

यूपी असंगठित कामगार लिस्ट में अपना नाम कैसे चेक करें :

यदि अपने असंगठित कामगार के लिए रजिस्ट्रेशन किया है तब चेक करने के लिए आप वेबसाइट का मदद ले सकते है. और आपको अपना यूजरनेम तथा पासवर्ड दर्ज करके लॉगिन के ऑप्शन में क्लिक करना होगा फिर आप अपने जिला एवं ब्लॉक का नाम डालते है फिर लिस्ट आ जाता है उसमें आप अपना नाम चेक कर सकते है।

Conclusion :

आज के समय मे अनेक मजदूर इस योजना का लाभ उठा रहे है, यूपी संगठित कामगार रजिस्ट्रेशन के माध्यम से विभिन्न क्षेत्रों के मजदूरों को लाभ मिल रहा है, ऐसे में आप भी यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन (UP Asangathit Kamgar Registration) करना चाहते हैं तब ऊपर दिए गए सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़कर अमल में ला सकते हैं।

Check Here: वोटर कार्ड (Voter I’d Card) के बिना भी दे पाएंगे आप वोट, जाने पूरी जानकारी यँहा

Leave a Comment