RBI New Update: 500 रुपए के नोट से जुड़ी बड़ी जानकारी आई सामने, अभी जाने ना तो हो सकता है नुकसान

Prasanjeet Mandal
6 Min Read

RBI New Update: अगर आप भारत में रहते हैं, तो आपको यह जानना बेहद जरूरी है कि 500 के नोट लगभग सभी व्यक्ति के पास जरूर होते हैं, ऐसे में आपको पता होना चाहिए कि भारतीय रिजर्व बैंक यानी कि आरबीआई ने 500 के नोट को लेकर नए अपडेट्स सामने लाए हैं, इसलिए यदि आपके पास भी 500 का नोट है, तो आप इस गाइडलाइंस को जरूर जाने।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

आप सबको यह पता होना बेहद आवश्यक है कि भारत में 2000 के नोट बंद कर दिए गए हैं, साथ ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर 500 के नोट को लेकर कई बड़ी खबरें सामने आ रही है, साथ ही दिन ब दिन वायरल होती जा रही है, ऐसे में आपको भी जानना चाहिए की 500 के नोट को लेकर क्या गाइडलाइंस जारी हुई है, और इसके बारे में क्या चर्चा सोशल मीडिया पर चल रही है।

क्या है 500 रुपए का नियम

आपको यह जानना चाहिए की 100, 200 और 500 रुपए के नोट आरबीआई (RBI New Update) द्वारा जारी किए जाते हैं, वर्तमान में भारत में 500 के नोट सबसे बड़े नोट है, अक्सर ऐसा देखने को मिलता है कि एटीएम में पैसे निकलते समय एटीएम से कटे-फटे नोट निकल आते हैं, ऐसे में लोगों को काफी दिक्कतों को सामना करना पड़ता है, परन्तु अब कुछ ऐसी जानकारी सामने आई है, जिसमें इन दिक्कतों से बचने का उपाय सामने आ गया है, जिसमें आप कटे-फटे नोटों को आसानी से बदल सकते हैं।

यह आपको पता होना चाहिए कि आरबीआई ने अपने शब्दों में कहा कि आप नोटों को बदलने के लिए नजदीकी शाखा में जाकर बदल सकते हैं, साथ ही आरबीआई ने ₹500 के नोट की पहचान के लिए नई जानकारी उपलब्ध करवाई है।

सोशल मीडिया पर क्या चल रहा है

आपको यह भी पता होना चाहिए कि पिछले कुछ बीते दिनों में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नोट को लेकर कई वायरल वीडियो और खबरें फैलती जा रही थी, ऐसे में पता चला कि नोट की पहचान के लिए नए तरीके सुझाए गए है।

यदि आपके पास कभी डुप्लीकेट खराब नोट आता है, तो आप उसकी पहचान कैसे करेंगे इसकी सभी महत्वपूर्ण जानकारी को नीचे बताया गया है:

  • अगर आपका नोट पूरी तरह से बीच से फटा हुआ है तो वह नोट बेकार हो चुका है।
  • यदि आपका नोट ज्यादा इस्तेमाल के कारण खराब हो जाता है, उस नोट को आरोग्य भी माना जाता है।
  • इसके अलावा 500 के नोट में ग्राफिक बदलाव भी अनफेडडेट माने जाएंगे।
  • यदि आपका नोट बहुत ज्यादा गंदा हो गया है या उसे पर मिट्टी लगी है तो उसे नोट को बेकार माना जाता है।

RBI New Update

आरबीआई द्वारा प्राप्त नई अपडेट (RBI New Update) की बात की जाए तो, उनके द्वारा बताया कि 500 के पुराने या फटे कटे नोट होने पर चिंता करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि अब आप किसी भी ब्रांच में जाकर 500 के कटे फटे नोट को बदल सकते हैं, अगर कोई बैंक बदलना नहीं चाहता है, तो आप आरबीआई पोर्टल के जरिए सीधे उस बैंक से शिकायत कर सकते हैं।

RBI Full Details

आपको आरबीआई के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी का पता होना चाहिए जिसे हमारे द्वारा नीचे लिस्ट में बताया गया। साथ ही यदि आप चाहे तो, वर्तमान में इनकम टैक्स रूल के बारे में भी जान।

विषयविवरण
संक्षिप्त नामभारतीय रिज़र्व बैंक (RBI)
गठन की तारीख1 अप्रैल 1935
स्थानीय मुद्रा प्रिंटिंग प्रेसेसमैसूर (कर्नाटक; दक्षिणी भारत) और सालबोनी (पश्चिम बंगाल; पूर्वी भारत)
प्रमुख कार्य– भारतीय बैंक सिस्टम के नियामक के रूप में धारण करना। – भारतीय रुपये के नियंत्रण, जारी और आपूर्ति को बनाए रखना। – देश की प्रमुख भुगतान प्रणालियों का प्रबंधन करना और उसके आर्थिक विकास को बढ़ावा देना। – रिज़र्व बैंक नोट मुद्रण (BRBNM) द्वारा भारतीय मुद्रा नोट (INR) की मुद्रण और मुद्रण। – जमा बीमा और क्रेडिट गारंटी निगम के रूप में विशेषज्ञ विभाग का स्थापना करना।
पूर्ण नियंत्रणभारत में मौद्रिक नीति के ऊपर पूर्ण नियंत्रण।
केंद्रीय बोर्डशैली: – गवर्नर – चार उप-गवर्नर – दो वित्त मंत्रालय प्रतिनिधि – दस सरकार द्वारा नामित निदेशक – चार निदेशक जो मुंबई, कोलकाता, चेन्नई और दिल्ली के स्थानीय बोर्डों का प्रतिनिधित्व करते हैं।
शीर्षकमिंट स्ट्रीट
अनुसंधान और विकासRBI मुख्य रूप से वित्तीय समावेशन नीति को बढ़ावा देने में सक्रिय है और वित्तीय समावेशन के लिए एक प्रमुख सदस्य है।
संरचनारिज़र्व बैंक का केंद्रीय बोर्ड उसकी मुख्य समिति है। भारत सरकार चार वर्ष के अवधि के लिए निदेशकों को नियुक्त करती है। बोर्ड में एक गवर्नर, और चार से अधिक उप-गवर्नर होते हैं; चार विभागीय बोर्डों को प्रतिनिधित्व करने के लिए चार निदेशक; वित्त मंत्रालय के दो – सामान्यतः आर्थिक मामले सचिव और वित्तीय सेवा सचिव – और विभिन्न क्षेत्रों से दस अन्य निदेशक।
विशेष निदेशकसुधा बालाकृष्णन, भारतीय रिज़र्व बैंक की प्रथम मुख्य वित्तीय अधिकारी बने।
वर्तमान गवर्नरशक्तिकांत दास।

Share this Article
Leave a comment