PM Ujjwala Yojana (प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना) 2024, कैसे करें ऑनलाइन आवेदन, जाने यँहा 

Sudhir Kumar
10 Min Read

नमस्कार दोस्तों आपका हार्दिक स्वागत है हमारे इस ब्लॉग पर। आज हम एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना के बारे में बात करेंगे जिसका नाम है प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana)। इस लेख में जानेंगे प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना क्या है? इस योजना के लाभ और विशेषताएं की पूरी जानकारी आपको विस्तारपूर्वक बताने वाला हूँ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

इसे अच्छी तरह से समझने के लिए लेख को पूरा अंत तक पढ़ें। तो आइए बिना देर किए हुए सबसे पहले यह जानते हैं की प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana) क्या है, और इसके क्या लाभ है।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana) क्या है और इसका उद्देश्य क्या है?

मई 2016 में पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय यानी मिनिस्ट्री ऑफ पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैस द्वारा ऐसे ग्रामीण वंचित परिवारों को, जो कि ईंधन के रूप में जलावन, लकड़ी, कोयला, गोबर के उपले आदि जैसे परंपरिक खाना पकाने के ईंधन का उपयोग कर रहे थे।

उनके लिए एलपीजी जैसे स्वच्छ खाना पकाने के ईंधन को उपलब्ध कराने के उद्देश्य से एक प्रमुख योजना के रूप में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana), यानि पीएमयूवाई (PMUY) की शुरुआत की गई।

इस योजना के अंतर्गत मार्च 2020 तक वंचित परिवारों को 8 करोड़ एलपीजी कनेक्शन जारी करने का लक्ष्य रखा गया था, जिसे 7 सितंबर 2019 को 8 करोड़ एलपीजी कनेक्शन का लक्ष्य को पूरा कर लिया गया।

इसके बाद यह उज्ज्वला 2.0 के तहत 1.6 करोड़ एलपीजी कनेक्शन अतिरिक्त आंबटन करने के लक्ष्य को दिसंबर 2022 तक पूरा कर लिया गया।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana) भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण स्वच्छता ऊर्जा संबंधित योजना है और इसका उद्देश्य गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को स्वच्छ और सुरक्षित तरीके से खाना पकाने के लिए मुफ्त एलपीजी सिलेंडर तथा चूल्हा प्रदान करना है।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana) के लाभ क्या है?

आइए अब इस योजना के लाभ के बारे में जानते हैं। इस योजना का मुख्य लाभ है मुफ्त एलपीजी सिलेंडर। इस योजना के तहत गरीब परिवारों को पहली बार गैस सिलेंडर और चूल्हा सरकार की ओर से मुफ्त में मिलता है, जिससे वे स्वच्छ और सुरक्षित तरीके से खाना पकाने का उपयोग कर सकते हैं।

इसका दूसरा लाभ है, वित्तीय सहयाता योजना के अंतर्गत गरीब परिवारों को एलपीजी सिलेंडर खरीदने के लिए सरकार की ओर से वित्तीय सहारा यानी सब्सिडी भी प्रदान किया जाता है, जिससे गरीब परिवारों को एलपीजी सिलेंडर खरीदने के लिए कम कीमत चुकाना होता है।

इसका तीसरा लाभ है स्वास्थ लाभ। यह योजना ग्रामीण महिलाओं की स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करती है क्योंकि इससे पहले वे ईंधन के रूप में जलावन, लकड़ी, कोयला, गोबर के उपले आदि जैसे परंपरिक खाना बनाने के ईंधन का उपयोग कर रहे थे।

जिससे उससे निकलने वाली हानिकारक धुआं से कई प्रकार की बीमारियां होती थी। अतः यह योजना ग्रामीण महिलाओं के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करती है। इस योजना का एक अन्य लाभ पर्यावरण सुरक्षा भी है, क्योंकि इस योजना के तहत सुरक्षित और साफ ईंधन का उपयोग करने से प्रदूषण का स्तर भी कम होता है।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana) के लाभ कौन – कौन ले सकते हैं?

आइए अब जानते हैं उज्ज्वला 2.0 योजना का लाभ कौन कौन ले सकते हैं। इस योजना का लाभ गरीब परिवार से संबंधित एक ऐसी महिला जिसकी उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक हो और जिसके घर में एलपीजी कनेक्शन नहीं है, वह उज्ज्वला 2.0 योजना के अंतर्गत पात्र मानी जाएगी।

इस योजना के लाभार्थियों को निम्नलिखित में से किसी एक श्रेणी से आवश्यक रूप से संबंधित होना चाहिए जैसे सामाजिक, आर्थिक एवं जाति जनगणना दो हज़ार 11 के अंतर्गत आने वाली महिला इसके पात्र होगी।

अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति के परिवारों से संबंधित, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण या फिर अंत्योदय अन्न योजना वनवासी अधिकांश पिछड़ा वर्ग चाय एवं पूर्व चाय बगान, जनजाति या नदी द्वीपों में रहने वाले लोग।

या फिर आदि कोई महिला, उपर्युक्त दो श्रेणियों के अंतर्गत नहीं आता है तो वह 14 सूत्री घोषणा निर्धारित प्रारूप के अनुसार प्रस्तुत करके गरीब परिवार के तहत लाभार्थी होने का दावा कर सकती है।

उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana) के आवेदन के लिए किन – किन दस्तावेज की जरुरत पड़ेगी?

आइये अब जानते हैं उज्ज्वला 2.0 योजना के तहत नामांकन करने हेतु आवेदक द्वारा कौन – कौन से दस्तावेज प्रस्तुत किए जाने अनिवार्य है। इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को निम्नलिखित दस्तावेज उपलब्ध करने होंगे।

उज्ज्वला 2.0 योजना के केवाईसी फॉर्म (KYC Form) को भरकर आवेदक का फोटो चिपकाना है और उसमें जहां जहां पर आवेदक का हस्ताक्षर दिया गया है उस स्थान पर आवेदक को हस्ताक्षर करना होगा। इसके अलावा आवेदक का पहचान प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, इसके स्थान पर आप आवेदक का आधार कार्ड की प्रति का उपयोग कर सकते हैं।

उसके बाद राशन कार्ड अथवा इसी प्रकार के दस्तावेज में उल्लेखित परिवारों के सभी वयस्क सदस्यों के आधार कार्ड की फोटो कॉपी चाहिए और आवेदक के बैंक खाते का विवरण भी जरूरी है।

राज्य सरकार द्वारा जारी राशन कार्ड अथवा अन्य कोई परिवारिक दस्तावेज, जिला प्रशासन द्वारा पहचाने गए परिवार की घरेलू संरचना का विवरण जैसे राजस्थान में भामाशाह कार्ड और मध्यप्रदेश में समग्र आईडी, उत्तरप्रदेश का परिवार पहचान पत्र, आंध्रप्रदेश का चावल कार्ड या बाद में जोड़े जाने वाला कोई अन्य राज्य वशिष्ट कार्ड जिसमें उनका नाम दिखाई दे रहा हो।

जिन राज्यों में राज्य सरकार के पोर्टल परिवार का विवरण अपडेट किया है, वहां राशन कार्ड के बदले लाभार्थी द्वारा इस पोर्टल से प्रिंटआउट की गई एक सव हस्ताक्षरित प्रति भी जमा की जा सकती है।

राशन कार्ड के बदले अनुलग्न वन के अनुसार स्वघोषणा पत्र, प्रवासी आवेदकों के मामले में परिवारिक संरचना का पता लगाने के लिए सहायक दस्तावेज आवश्यक रूप से लागू होंगे आदि।

इन सात श्रेणियों से संबंधित उदाहरण अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के परिवार, प्रधानमंत्री आवास योजना, ग्रामीण अंत्योदय अन्न योजना के लाभार्थी, वनवासी, अति पिछड़ा वर्ग, चाय और पूर्व चाय बगान जनजाति, नदी द्वीपों में रहने वाले लोग, गरीब परिवार के समर्थन में की गई 14 सूत्री घोषणा, दिए गए मानक प्रारूप के अनुसार आवेदक द्वारा विधिवत हस्ताक्षरित होना चाहिए।

उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana Apply) के लिए किस प्रकार से आवेदन कर सकते हैं?

Pmuy
Pm ujjwala yojana (प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना) 2024, कैसे करें ऑनलाइन आवेदन, जाने यँहा  13

आइए अब जानते हैं उज्ज्वला 2.0 योजना के तहत एलपीजी कनेक्शन लेने के लिए किस प्रकार से आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आवेदक ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों तरह के आवेदन कर सकता है।

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए ग्राहक इसकी ऑफिशियल वेबसाइट https://www.pmuy.gov.in/ की वेबसाइट पर जाकर के ऑनलाइन आवेदन के माध्यम से नामांकन करा सकती है अथवा ऑनलाइन आवेदन जमा करने के लिए अपने नजदीकी ग्राहक सेवा केंद्र से भी संपर्क कर सकते हैं।

वही ऑफलाइन आवेदन करने के लिए ग्राहक को एलपीजी गैस के डिस्ट्रीब्यूटर के माध्यम से सीधे आवेदन पत्र जमा करके नामांकन करा सकती है।

निष्कर्ष:

तो दोस्तों यह था प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PM Ujjwala Yojana), क्या है इस योजना के लाभ और विशेषताएं। कैसा लगा आपको यह जानकारी आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर जानकारी पसंद आया और उपयोगी लगा तो लेख को अन्य लोग को शेयर जरूर करें, ताकि उपयुक्त लोगो को मदद मिल सके। तथा आपका अगर कोई भी सवाल रहा है तो आप हमे कमेंट कर के जरूर बताये, हमारा यह लेख को पढ़ने के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यवाद।

ALSO CHECK: KYC in PM Kisan Yojana, केवाईसी पीएम किसान योजना, आवेदन की प्रक्रिया और लाभ

Share this Article
Leave a comment