Electric Vehicle Subsidy: Electric Vehicle ख़रीदने का सुनहरा मौका, सरकार दे रही इलेक्ट्रिक गाड़ी पर FAME II सब्सिडी

Sudhir Kumar
9 Min Read

लगातर लोगों को इलेक्ट्रिक वाहन अपनी ओर ध्यान बढ़ते पेट्रोल के दाम के कारण कर रही है। यह सच है कि लोग नवीनीकरण की ओर बढ़ रहे हैं और लगातार लोग EV की ओर बढ़ रहे है. पहले की अपेक्षा अब EV लेने वालों को संख्या में इजाफा हुआ है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

भारत सरकार पिछले कुछ वर्षों से बसों, तिपहिया वाहनों, यात्री कारों तथा दोपहिया वाहनों – स्कूटर और बाइक दोनों सहित इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने पर जोर दे रही है। यदि आप आज के समय में इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के बारे में सोच रहे है तब आपको इलेक्ट्रिक वाहन से संबंधित सब्सिडी (Electric Vehicle Subsidy) के बारे में बता रहे है, जिसे आप ईवी खरीदते वक्त ध्यान से जरूरी रजिस्ट्रेशन करके क्लेम कर सकते हैं। ऐसे में आइए हम आपको FAME II सब्सिडी के बारे में बताते है जिसे केंद्र सरकार द्वारा जारी किया जाता हैं।

FAME II क्या है

भारत सरकार द्वारा पारंपरिक आंतरिक दहन जैसे पेट्रोल, डीजल वाहनों तथा इलेक्ट्रिक वाहन कार,  स्कूटर तथा तिपहिया वाहनों हाइब्रिड वाहनों की कीमतों के बीच अंतर को कम करने के लिए FAME या फास्टर एडॉप्शन एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑफ इलेक्ट्रिक वाहनों की कल्पना की गई थी।

COP21 समझौते के अनुसार कार्बन उत्सर्जन को कम करने तथा ईंधन बचाने के दृढ़ लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए इलेक्ट्रिक मोबिलिटी पर स्विच को प्रोत्साहित करने के लिए FAME की शुरुआत अप्रैल, 2019 में शुरू हुई है।

Electric Vehicle Subsidy FAME क्या है ?

भारत में हाइब्रिड तथा इलेक्ट्रिक ऑटोमोबाइल को तेजी से अपनाना तथा विनिर्माण करना, इलेक्ट्रिक वाहनों पर सरकारी सब्सिडी प्रदान करने के लिए एक प्रोत्साहन कार्यक्रम है। ईवी प्रोत्साहन कार्यक्रम 2013 में नेशनल मिशन ऑन इलेक्ट्रिक मोबिलिटी 2011/नेशनल इलेक्ट्रिक मोबिलिटी मिशन प्लान 2020 के हिस्से के रूप में प्रस्तुत किया गया था। FAME सब्सिडी के मुख्य पहलू निम्नलिखित हैं :

• सबसे पहले FAME I योजना की 1 अप्रैल 2015 से शुरू हुई थी, और इसे पहले चरण में सिर्फ दो साल की अवधि के लिए मंजूरी प्रदान की गई थी।

• इस ईवी सब्सिडी कार्यक्रम को समय-समय पर बढ़ाया गया है, FAME का पहला चरण अंतिम बार 31 मार्च, 2019 तक बढ़ाया गया था।

FAME योजना में Demand Incentive Disbursement Mechanism (DIDM) का उपयोग किया जाता है।

• सभी वाहन श्रेणी में इलेक्ट्रिक या फिर हाइब्रिड, आदि के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों पर सरकारी सब्सिडी की राशि टेक्नोलॉजी तथा बैटरी मापदंडों के आधार पर तय किया गया हैं।

Fame ii scheme
Electric vehicle subsidy: electric vehicle ख़रीदने का सुनहरा मौका, सरकार दे रही इलेक्ट्रिक गाड़ी पर fame ii सब्सिडी 13

Electric Vehicle Subsidy FAME II क्या है :

FAME II की शुरुआत 1 अप्रैल 2019 से हुई है, यह FAME का दूसरा चरण है, तथा सरकार ने इस कार्यक्रम के लिए 10000 करोड़ का बजट रखा है, FAME II से संबंधित मुख्य तथ्य निम्न हैं –

FAME II ई वाहन सब्सिडी में 7000 ई-बसें, 5 लाख इलेक्ट्रिक 3-पहिया वाहन, 55000 इलेक्ट्रिक वाहन तथा 10 लाख इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों को शामिल किया गया है।

• हाल ही में EV Subsidy (ईवी सब्सिडी) कार्यक्रम को मार्च 2024 तक बढ़ा दिया गया था, जिसे पुन: मार्च 2025 तक के लिए बढ़ाया गया है।

• इलेक्ट्रिक वाहनों में दोपहिया वाहन की बिक्री में बढ़ोत्तरी हो इसके लिए नई FAME II सब्सिडी योजना में  प्राथमिकता दिया जा रहा हैं।

•  शुरुआत में दुपहिया वाहनों के लिए प्रोत्साहन 10000  रुपए/kWh था, जिसमें 50 फीसदी बढ़ाकर 15000 रूपये/kWh किया गया हैं।

• इसके साथ ही ई-वाहन सब्सिडी सीमा को वाहन की लागत के 20% से बढ़ाकर 40% कर दिया गया है। • इलेक्ट्रिक वाहनों (चार पहिया वाहनों) के लिए सब्सिडी 10000 रूपये प्रति kWh हैं।

• इलेक्ट्रिक कार के लिए अधिकतम प्रोत्साहन मूल्य रु. 1.5 लाख तक रखा गया हैं।

Electric Vehicle Subsidy

वर्तमान समय में यदि आप इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तब आप निम्न तरह से यदि ईवी लेते हैं तब आप निम्न सब्सिडी का लाभ उठा सकते हैं-

खरीद प्रोत्साहन : इसमें इलेक्ट्रिक वाहन की कीमत पर हितग्राही को सीधी छूट प्रदान किया जाता हैं।

कूपन : इसमें वित्तीय प्रोत्साहन जहां राशि की प्रतिपूर्ति बाद में किया जाता हैं।

ब्याज छूट : यदि आप ईवी लेने के लिए ऋण लेते है तब उस समय ब्याज दर पर छूट की पेशकश किया जाता है।

सड़क कर छूट : ईवी खरीदते समय जो सड़क कर लगता है, उसमें छूट प्रदान किया जाता हैं

पंजीकरण शुल्क में छूट : नए वाहन की खरीद पर लागू एकमुश्त पंजीकरण शुल्क को यदि आप ईवी खरीदते है तब उसे माफ कर दिया जाता हैं।

आयकर लाभ: किसी व्यक्ति द्वारा सरकार को देय कर राशि पर कटौती प्रदान किया जाता है यदि आप ईवी खरीदते है।

स्क्रैपिंग : पुराने पेट्रोल तथा डीजल वाहनों को स्क्रैपिंग करने के बाद नई इलेक्ट्रिक वाहनों पर सब्सिडी प्रदान किया जाता हैं।

Electric Vehicle Subsidy के लिए आवेदन कैसे करें

वर्तमान समय में यदि आप ईवी लेते हैं और उसमे किसी तरह का छूट प्राप्त करना चाहते हैं तब आपको FAME II के लिए आवेदन फॉर्म भरने की जरूरत होती है। आप जो भी इलेक्ट्रिक वाहन ले रहे है, उसके अनुसार आपको सब्सिडी मिलती है, ऐसे में आप निम्न तरह से आवेदन करके अपना सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं –

• सबसे पहले आपको इलेक्ट्रिक वाहन का चुनाव करना होगा, फिर उसे खरीदना होगा।

• इलेक्ट्रिक वाहन को आप डाउन पेमेंट में लेते हैं तब आपको ब्याज दर में प्रोसेसिंग फीस और इंट्रेस्ट रेट कम लगता है, और वही ऑन कैश लेते हैं तब आपको अलग अलग ईवी में विभिन्न तरह के सब्सिडी मिलता है।

• ऑन कैश में आप जब ईवी लेते हैं उसी वक्त आपको एक सब्सिडी का फॉर्म भरना होता है, और उसमे अपने नए ईवी से संबंधित सभी जानकारी भरना होता है।

• आपको फॉर्म के साथ अपना बैंक अकाउंट, गाड़ी के कागजात और ड्राइविंग लाइसेंस अटैच करना होता है।

• इसके बाद आप इस फॉर्म को बैंक में जमा कर दे।

• इसके बाद आपका फॉर्म का वेरिफिकेशन होता है, और सभी जानकारी सही रहता है, तब ईवी सब्सिडी का पैसा 1 महीने के अंदर आपके द्वारा दिए गए बैंक अकाउंट में आ जाता है।

• इस तरह से आप आसानी से आज के समय में Electric Vehicle Subsidy प्राप्त कर सकते हैं।

Conclusion :

आज के समय में ईंधन की खपत को देखते हुए लोग ईवी की और रुख कर रहे है, और वर्तमान समय में ईवी में अनेक तरह की सब्सिडी मिल रही है, ऐसे में आज ईवी खरीदना अन्य गाड़ियों की अपेक्षा सस्ता पड़ता है, ऐसे में आज ही आप ऊपर दिए गए जानकारी को सही से फॉलो करके, ईवी सब्सिडी क्लेम कर सकते हैं।

ALSO CHECK: ई श्रम कार्ड योजना (E Shram Card Yojana) कैसे उठाए लाभ जाने पूरी जानकारी

Share this Article
Leave a comment