बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना (BBBP) Beti Bachao Beti Padhao Scheme, आवेदन की प्रक्रिया और लाभ

शिक्षा का महत्व लगातार बढ़ते जा रहा है, और इसलिए भारत सरकार द्वारा शिक्षा के महत्व को ध्यान में रखते हुए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ (Beti Bachao Beti Padhao) का नारा दिया, वर्तमान समय में पूरे समाज को महिलाओं तथा बालिकाओं के प्रति नज़रिया बदलने की सख्त ज़रूरत है, और इसी कड़ी में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत सुधारों को बढ़ाने के लिए सरकार ने 150 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

यदि आप इस योजना के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तब आपको इस पोस्ट में इस योजना से संबंधित सभी जानकारी विस्तार से मिल जायेगी, ऐसे में आप इस पोस्ट को ध्यान से पढ़े और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के बारे में जानकारी प्राप्त करें।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना (Beti Bachao Beti Padhao Scheme) क्या है

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय,स्वास्थ्य मंत्रालय तथा परिवार कल्याण मंत्रालय एवं मानव संसाधन विकास की एक संयुक्त पहल के रूप में शुरू किया गया है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की शुरुआत 22 जनवरी, 2015 को की गई है और इसके अंतर्गत बालिकाओं को संरक्षण और सशक्त करना है, इस योजना का क्रियान्वन निम्न लिंगानुपात वाले 100 जिलों में प्रारंभ किया गया है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का उद्देश्य (Beti Bachao Beti Padhao Scheme Objective)

यदि हम इस योजना के बारे में देखते है तब मूल रूप से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ को गिरते हुए बाल लिंग अनुपात (CSR) तथा महिला सशक्तीकरण से जुड़े अन्य मुद्दों के समाधान के उद्देश्य से शुरू किया गया था।

वर्तमान समय में इस योजना का मुख्य उद्देश्य लिंग आधारित भेदभाव तथा उन्मूलन को दूर करने में मदद करना है, तथा बालिकाओं की सुरक्षा और संरक्षण के लिए काम करना है, इसके साथ ही बालिकाओं को शिक्षा प्रदान करना तथा उनकी भागीदारी को सक्षम और सुनिश्चित करना है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का विशेषता (BBBPS Facts)

• बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना (BBBPS) भारत सरकार के महिला एवम् बाल विकास मंत्रालय, स्वास्थ्य मंत्रालय तथा परिवार कल्याण मंत्रालय एवम् मानव संसाधन विकास का संयुक्त कार्यक्रम हैं।

• इस योजना का मुख्य उद्देश्य बालिका शिक्षा पर जोर देना है तथा महिलाओ को सशक्त बनाना है।

• यौन अनुपात को संतुलन में लाना हैं।

• बालिकाओं के प्रति मौजूदा लैंगिक रूढ़ियों तथा बुरे सामाजिक मानदंडों को चुनौती देना है।

• सामाजिक परिवर्तन तथा सुधार के लिए प्रेरक के रूप में काम करने के लिए इस योजना के माध्यम से स्थानीय निकायों तथा समूहों को सही रूप से ट्रेनिंग प्रदान करना है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ किसके लिए है (BBBPS For Whom)

वर्तमान समय में इस योजना को सभी लोगों तक पहुंच बनाने के लिए इसे तीन समूह में शुरू किया गया है, ताकि इस योजना का लाभ सभी वर्ग के महिलाओ को मुख्य रूप से मिल सके, वर्तमान समय में इस योजना का लाभ मुख्य समूह को मिल रही हैं –

• प्राथमिक समूह : इस समूह में युवा तथा विवाहित जोड़े, गर्भवती माताएं तथा माता-पिता आदि को शामिल किया गया हैं।

• माध्यमिक समूह : इस समूह में देश के पढ़े लिखे युवाओं को शामिल किया गया है जो डॉक्टर, निजी अस्पताल, नर्सिंग होम तथा डायग्नोस्टिक सेंटर आदि से जुड़े हुए है।

• तृतीयक समूह: देश के सामान्य लोग सहित, फ्रंटलाइन कार्यकर्ता, अधिकारी, धार्मिक नेता, स्वैच्छिक संगठन, मीडिया तथा महिला SHG आदि को शामिल किया गया है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का लाभ (Beneficiary of BBBPS)

• इस योजना के माध्यम से महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिला है।

• लैंगिक समानता में पहले की अपेक्षा काफी सुधार आया है।

• भ्रूण हत्या में कमी आई है।

• बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ नारा के माध्यम से शिक्षा के क्षेत्र में लड़कियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

• बालिकाओं के विकास तथा शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए संचार अभियान शुरू हुई है।

Beti Bachao Beti Padhao Scheme के तहत शुरू की गई विभिन्न योजनाएं

भारत सरकार और विभिन्न राज्यों के राज्य सरकार द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना को सफल बनाने के लिए विभिन्न तरह की योजनाओं का संचालन किया जा रहा है।

विभिन्न अभियानों, जागरूकता कार्यक्रमों तथा सुधारों के निर्माण के अलावा, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत कई योजनाएं हैं जिनमें से प्रत्येक महिला और बालिका के उत्थान, सशक्तिकरण तथा कल्याण पर केंद्रित किया जा रहा है, जो कि निम्न है–

• सुकन्या समृद्धि योजना

• सखी योजना

• बालिका समृद्धि योजना

• लाड़ली लक्ष्मी योजना

• उड़ान : सपने दी दुनिया दे रूबरू

• लाडली योजना

• Selfie With Daughter

• कन्याश्री प्रकल्प योजना

• धनलक्ष्मी योजना

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के लिए योग्यता (Eligibility for Beti Bachao Beti Padhao)

वर्तमान समय में यदि इस योजना का लाभ कोई बालिका उठाना चाहती हैं तब उनके पास निम्न योग्यता होनी चाहिए–

• बालिका का जन्म भारत में होना चाहिए, और बालिका भारत का निवासी होनी चाहिए।

• बालिका का उम्र 10 वर्ष से कम होना चाहिए।

• बालिकाओं के नाम पर किसी भी बैंक में एक सुकन्या समृद्धि अकाउंट (SSA) होना चाहिए।

Beti Bachao Beti Padhao Scheme के लिए आवश्यक दस्तावेज (BBBP Important Documents)

यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तब आपके पास निम्न दस्तावेज होना चाहिए –

• जन्म प्रमाण पत्र अस्पताल या फिर किसी मान्यता प्राप्त सरकारी निकाय द्वारा जारी किया गया जन्म से संबंधित प्रमाण पत्र या कागजात होना चाहिए।

• बालिका के माता-पिता की पहचान का प्रमाण जैसे आधार कार्ड, राशन कार्ड, आदि होना चाहिए।

• माता पिता का पते का प्रमाण जैसे पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पानी, टेलीफोन, बिजली आदि जैसे उपयोगिता बिल होना अनिवार्य है।

• बालिका का पासपोर्ट साइज फोटो और माता पिता के साथ एक फोटो होना अनिवार्य है।

Beti Bachao Beti Padhao Scheme के लिए आवेदन कैसे करें (Beti Bachao Beti Padhao Scheme apply online)

आज के समय में यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तब आपको निम्न स्टेप को ध्यान में रखकर आवेदन करने की आवश्यकता होगी–

• सर्वप्रथम आपको अपने नजदीकी सरकारी बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस जाना होगा।

• अब आपको वहां से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ या फिर SSA के लिए आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।

• अब आपको फॉर्म को ध्यानपूर्वक पढ़कर, फॉर्म को मैन्युअल रूप से भरना होगा।

• इसके बाद सभी आवश्यक दस्तावेजों को अटैच कर ले।

• अब आपको फॉर्म को बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस में जमा कर दे, कुछ दिनों में बालिका के नाम से वेरिफिकेशन हो जाने पर अकाउंट ओपन हो जाता हैं।

• इस तरह से आप बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का लाभ उठा सकते हैं।

Conclusion

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सिर्फ नारा नही, यह एक सफल कार्यक्रम बन गया है। इस योजना के माध्यम से महिला साक्षरता में वृद्धि हुई है, इसके साथ ही भ्रूण हत्या में कमी आई है, और महिलाओ को सशक्त बनाने की दिशा में अनेक संस्थान कार्य कर रही है। इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तब आप ऊपर दिए गए सभी जानकारी को फॉलो करके बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, और उसे फॉलो कर सकते हैं।

ALSO CHECK: UP EV Subsidy Portal पर कैसे करें आवेदन, कितनी मिलेगी सब्सिडी, जाने यँहा

Leave a Comment